औरंगाबाद, भारत डायरी समाचार सेवा : महाराष्ट्र में पिछले साल प्लास्टिक पर सख्ती से बैन लागू किया गया था. इसके बावजूद भी अगर सरकारी दफ्तरों में ही इसका उल्लंघन होने लगे तो आम जनता को क्या संदेश जाएगा? कुछ ऐसा ही सोचा होगा महाराष्ट्र के बीड कलेक्टर आस्तिक कुमार पांडे ने. बीड में कलेक्टर ऑफिस में प्लास्टिक कप का इस्तेमाल होने पर कलेक्टर ने खुद पर ही 5 हजार रुपये का जुर्माना ठोक दिया.

दरअसल सोमवार को बीड जिला प्रशासन ने कलेक्टर ऑफिस में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. इसमें विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन वापसी के आखिरी दिन उन उम्मीदवारों के नाम वापस हुए, उनके नाम घोषित होने थे. इस दौरान पत्रकारों को प्लास्टिक के कप में चाय परोसी गई जिस पर एक पत्रकार का ध्यान गया तो उसने कलेक्टर के सामने इस मुद्दे को उठाया. पत्रकार के सवाल करने पर कलेक्टर ने गलती मानी और अपने ऊपर जुर्माना लगाने का फैसला किया.

सूत्रों के अनुसार, कलेक्टर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद कलेक्टर ऑफिस में ही प्लास्टिक बैन के उल्लंघन पर अधिकारियों की जमकर क्लास लगाई. पिछले आठ दिनों में कलेक्टर ऑफिस में प्लास्टिक के इस्तेमाल पर जुर्माने का यह दूसरा मामला है. इससे पहले चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने आया एक उम्मीदवार एक प्लास्टिक बैग में अपनी जमानत राशि रखकर लाया था. जब अधिकारियों ने इसे नोटिस किया तो उस पर 5 हजार रुपये का बैन लगा दिया गया.

- Advertisement -

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें